सोमवार, 27 जुलाई 2009

एक पुरातत्ववेत्ता की डायरी-पाँचवा दिन-एक

हम लोगों ने 1-1 मीटर पर 10 पेग लगाये

आज हम लोगों ने एक नई ट्रेंच पर कार्य आरम्भ किया । इसे हमने क्रमांक-चार नाम दिया । सारा दिन उत्साहपूर्ण वातावरण मे बीता । आज दिन भर हम नई नई बातें सीखते रहे ,ट्रेंच के लिये जगह का चयन किस प्रकार किया जाये,किस प्रकार नाप लिया जाये, खूंटियाँ किस प्रकार गाड़ी जायें आदि आदि । हमारी यह नई ट्रेंच 10 x 4 मीटर की है ।सर्वप्रथम हमने चारों ओर 25 सेंटीमीटर का मार्जिन छोड़ा तथा 1-1 मीटर के अंतर पर 10 पेग लगाये । यहाँ पेग से तात्पर्य गाड़ी गई खूँटियों से है सारी ट्रेंच का एक साथ निरीक्षण करने हेतु पेग ix और x के बीच एक कंट्रोल पिट बनाया ।
आज की सतह निरीक्षण में हमे स्वास्तिक चिन्ह युक्त एक सिक्का , एक टेराकोटा ऑब्जेक्ट तथा एक स्टोन बॉल प्राप्त हुआ । आज हमने सतह से खुदाई प्रारम्भ की और 31 सेंटीमीटर तक पहुंचे । इन प्रारम्भिक बातों के लिये डॉ.आर्य हमारा मार्ग दर्शन करते रहे । शाम को कार्य समाप्त करने के बाद हमे यह भी बताया गया कि प्राप्त वस्तुओं की देखभाल कैसे की जाये और उन्हे सम्भाल कर कैसे रखा जाये । सदियों से जो अवशेष ज़मीन के भीतर दफ्न हैं बाहर आते ही ऐसे लगा जैसे वे हमसे बातें करने लगे है । मिट्टी का 4 से.मी. का एक छोटा सा पात्र हाथ में लिये अशोक उसे बहुत देर तक निहारता रहा । “क्या देख रहा है अशोक ?” मैने ध्यान से पात्र देखते हुए अशोक से पूछा । “ वाह कितना सुन्दर पात्र है “ अशोक ने कहा । मुझे लगा वह ताम्राश्मयुगीन सभ्यता की किसी विशेषता पर हम लोगों का ध्यान आकर्षित करने वाला है । लेकिन अशोक ने अपनी नज़रें उस पर से हटाये बगैर फिर कहा “ अपने तम्बू में सिगरेट की राख झाड़ने के लिये ऐश ट्रे नहीं है यह बढ़िया काम आयेगा । और फिर उसने धीरे से उसे अपनी पैंट की जेब में रख लिया ।
Trench no 4 10 metersx4meters
PEGX PEG IX PEG VIII PEGVII PEG VI PEG IV PEG III PEG II PEG I PEG 0
CONTROL
PIT




















































चित्र गूगल से साभार रेखांकन-शरद कोकास

5 टिप्‍पणियां:

  1. भाई जी

    यह भरमाने वाला शीर्षक न लगाया करो जी//

    हम तो सोचे महफिल जमी है शरद भाई की..भागे भागे आये कि पटियाला चल रहा है एक एक मीटर वाला..मजा आ आयेगा. तो यहाँ तो नजारा ही दूसरा है.

    खैर, मजा तो फिर भी आया.

    उत्तर देंहटाएं
  2. हा हा बिल्कुल कुछ तो चाहिये न ऐश के लिये ...

    उत्तर देंहटाएं
  3. अरे भाई, वह प्याला पैग सर्व करने का पात्र था।

    उत्तर देंहटाएं
  4. इस एपिसोड मे मज़ा आया लेकिन ज़रा टेक्निकल है.

    उत्तर देंहटाएं